{ads}

कुमारी शैलजा को हारने के लिए बिलासपुर से भेजी गई थी टीम... पर रही नाकाम

 



 कुमारी शैलजा ने अशोक तंवर को सिरसा लोकसभा सीट पर भारी पांच मारा भाजपा यहां 268497 वोट से हारी। आप कहेंगे हरियाणा सिरसा लोकसभा परिणाम का बिलासपुर से क्या वास्ता पर है। कुमारी शैलजा तब छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की प्रभारी थी जब छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार थी।

छत्तीसगढ़ में कांग्रेस हारी शैलजा का प्रभार छीना और पायलट को मिल गया बिलासपुर सहित आसपास कांग्रेस के कई नेता और नेत्रियां ने पार्टी छोड़कर भाजपा ज्वाइन कर ली। कांग्रेस में ऐसे बहुत से नेता रहे जो कुमारी शैलजा से व्यक्तिगत चिढ़ रखते थे। और भाजपा चले गए कांग्रेस में जब सिरसा से उन्हें उम्मीदवार बनाया तो छत्तीसगढ़ भाजपा ने ऐसे सब नेताओं को सिरसा हरियाणा शैलजा के खिलाफ प्रचार के लिए भेजा और अपने इस एक्शन का प्रचार भी खूब किया। शैलजा के जीत के बाद बिलासपुर का मीडिया चुप है। सिरसा जिले के कई क्षेत्र किस आंदोलन के गढ़ रहे हैं शैलजा की जीत कई मामलों में बड़ी है। कुछ ही माह में हरियाणा में विधानसभा चुनाव है शैलजा हरियाणा क्षेत्र की बड़ी नेता है। जब से हुड्डा और शैलजा के बीच राजनीतिक समझ मजबूत हुई है हरियाणा में कांग्रेस का प्रदर्शन चमकदार हो गया है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.