Ads

Lok Sabha Election 2024 : तेज गरमी से बचने के लिए मतदान केंद्रों में होगा छाया के साथ शर्बत और रसना का इंतजाम, बुजुर्ग एवं दिव्यांग मतदाताओं को लाने ले जाने लगेंगे वाहन

 




बिलासपुर. कलेक्टर अवनीश शरण ने इन दिनों पड़ रही भीषण गरमी को देखते हुए सभी मतदान केन्द्रों पर छाया एवं पानी का पर्याप्त इंतजाम करने को कहा है। उन्होंने वोट देने आने वाले मतदाताओं एवं मतदान दलों के लिए न्यूनतम मूलभूत सुविधायें सुनिश्चित कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए हैं। दलों के पहुंचने पर स्थानीय अधिकारियों द्वारा परम्परा के अनुरूप स्वागत भी किया जाना चाहिए। श्री शरण आज न्यू सर्किट हाऊस के सभाकक्ष में सामान्य प्रेक्षक अभय ए महाजन, व्यय प्रेक्षक श्रीकांत नामदेव एवं एसपी रजनेश सिंह की मौजूदगी में जिम्मेदार अधिकारियों की बैठक लेकर निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप सफलता के लिए कई दिशा-निर्देश दिए। कलेक्टर ने मतदान केन्द्रों पर यथासंभव वोटर्स को शरबत अथवा शीतलपेय परोसने को भी कहा है।

          कलेक्टर श्री शरण ने कहा कि मतदान केन्द्रों एवं वहां स्थित टॉयलेट्स की अच्छी तरह से साफ-सफाई करवा लिया जाये। महिलाओं के लिए अलग टायलेट की व्यवस्था किया जाये। टायलेट में पानी, बाल्टी, मग आदि भी उपलब्ध रहे। मटके में ठण्डे पानी पूरे मतदान काल के दौरान हमेशा उपलब्ध रहना चाहिए। बीच-बीच में मतदाताओं को ट्रे में ले जाकर पानी उपलब्ध कराने की व्यवस्था किया जाये। इन सब कामों के लिए लोगों को जिम्मेदारी सौंपकर नामजद ड्यूटी लगाया जाये। आपात जरूरत को ध्यान में रखते हुए बिजली की बैक-अप व्यवस्था रहे। मोबाईल चार्जिंग के लिए अलग से पांइंट निर्धारित रहे। यथासंभव कूलर एवं पंखे की व्यवस्था अनिवार्य रूप से किया जाये। लोगों के मार्गदर्शन के लिए स्पष्ट संकेत चिन्ह भी नजर आना चाहिए। कलेक्टर ने कहा कि मतदान केन्द्रों तक पहुंचने में लोगों को किसी भी प्रकार की बाधा नहीं आने देना है। इसलिए चुनाव संपन्न होने तक सड़कों की खुदाई कार्य स्थगित कर दिया जाये।

          कलेक्टर ने मतदान के दिन सिम्स, जिला अस्पताल सहित सभी स्वास्थ्य केन्द्रों को हाई एलर्ट पर रखने के निर्देश दिए। सभी आवश्यक दवाईयों के साथ डॉक्टर हमेशा मौजूद रहें। दूरस्थ मतदान केन्द्रों के बीच एम्बुलैंस तैनात रहेगा। हर मतदान केन्द्र पर मितानीन सभी जरूरी दवाईयों के साथ मौजूद रहेंगी। कलेक्टर ने चुनाव ड्यूटी में लगे कर्मचारियों को यदि उनका कोई दवा पानी चल रहा हो तो उनकी पर्ची रखने को कहा है ताकि तत्काल इलाज किया जा सके। कलेक्टर ने बताया कि बुजुर्ग एवं दिव्यांग मतदाताओं को वोटिंग कराने केन्द्र तक लाने ले जाने के लिए वाहन की व्यवस्था की गई है। व्हील चेयर भी मतदान केन्द्र के प्रवेश द्वार पर उपलब्ध रहेगी। उन्होंने दूसरे जिलों के लोगों को मतदान के 48 घण्टे के पूर्व जिला छोड़ देने के निर्देश भी दिए हैं। केवल प्रत्याशी एवं उनका चुनाव अभिकर्ता रह सकते हैं।

         एसपी रजनेश सिंह ने बैठक में बताया कि शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष तरीके से चुनाव संपन्न कराने के लिए पुलिस प्रशासन मुस्तैद हैं। 337 संवेदनशील मतदान केन्द्रों पर खास नजर रहेगी। सभी मतदान केन्द्रों पर सुरक्षा बल तैनात रहेंगे। इसके अलावा 49 पेट्रोलिंग टीम भी गश्त करती रहेंगी। उन्होंने कहा कि शांतिपूर्ण निर्वाचन के लिए 4 हजार से ज्यादा लोगों के विरूद्ध प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई है। 56 अवैध हथियार जब्त किए गये हैं। इस दौरान 748 लाईसेन्सी बन्दूकें जमा कराई गई है। 7 लोगों को जिला बदर किया गया है। 5 हजार लीटर से अधिक अवैध शराब जब्त किये गये हैं। प्रेक्षक श्री अभय ए महाजन ने कहा कि चुनाव आयोग के प्रोटोकॉल के अनुरूप निर्वाचन संपन्न कराएं। अब तीन-चार दिन ही बचे हैं। प्रयास किया जाये कि कहीं पर त्रुटि न हो। व्यय प्रेक्षक ने मतदान के आखिरी दिनों में अवैध गतिविधियों के विरूद्ध कार्रवाई में तेजी लाने के निर्देश दिए। मतदान केन्द्र के 100 मीटर की परिधि में चुनाव प्रचार न हो। मतदाताओं को प्रलोभन देने वालों पर सख्ती से कार्रवाई किया जाये। निगम आयुक्त अमित कुमार, जिला पंचायत सीईओ आरपी चौहान एवं उप जिला निर्वाचन अधिकारी शिव कुमार बनर्जी ने भी बैठक को सम्बोधित किया।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.