Ads

बिना अनुमति के संचालित था कैरम क्लब,नशे का बन चुका था अड्डा, निगम ने का कार्रवाई, कांग्रेस नेता भी था इन्वॉल्व

 





Bilaspur. फिजिकल कल्चरल सोसायटी की दुकान को खरीदे बगैर बिना अनुमति के अवैध कब्जा करके कैरम क्लब संचालित किया जा रहा था। निगम ने मंगलवार को इस पर बड़ी कार्रवाई करते हुए उक्त दुकान को कब्जे से मुक्त कराया और सामान को जब्त कर लिया। एक दुकान पर पूर्व कांग्रेस पार्षद और एक मामले में फरार तैयब हुसैन का कब्जा था, उसको भी हटाया गया।






कब्जे से छुड़ाने के बाद दुकान को फिजिकल कल्चरल सोसायटी को सौंपा गया है। उल्लेखनीय है कि राजा रघुराज सिंह स्टेडियम के पीछे की तरफ इमलीपारा मार्ग में स्टेडियम की दुकानें हैं। इस पर स्टेडियम को संचालित करने वाली फिजिकल कल्चरल सोसायटी का आधिपत्य है। उक्त दुकानों को 2011 में नीलामी के ज़रिए बेचा गया था। इनमें से एक दुकान पर बिना अनुमति और खरीदी के कुछ लोगों के द्वारा कैरम क्लब संचालित किया जा रहा था। यहां देर रात तक असामाजिक तत्वों का जमावड़ा और नशाखोरी की जाती थी। निगम कमिश्नर अमित कुमार के निर्देश पर नगर निगम के अतिक्रमण विभाग की टीम ने मंगलवार को कार्रवाई करते हुए उक्त दुकान को अवैध कब्जे से मुक्त कराया और सामान को जब्त कर लिया। इस दुकान पर काफी वर्षो से कब्जा किया गया था,जहां कैरम क्लब के नाम पर असमाजिक तत्वों का जमावड़ा हमेशा रहता था। आस-पास के रहवासी भी इस क्लब से परेशान थे। 





तीन और दुकानों पर कार्रवाई


कार्रवाई के तहत निगम ने स्टेडियम की ही 10,11, और 13 नंबर की दुकानों को नीलामी की राशि जमा नहीं करने पर सील किया है। उक्त दुकानदारों को राशि पटाने की मोहलत दी गई है,तब तक दुकानें सील रहेगी। 2011 में नीलामी के दौरान अनिल पाण्डेय,धीरज पाण्डेय और धनेश पाण्डेय द्वारा तीन दुकानें नीलामी के ज़रिए खरीदी गई थी। जिसके बाद उक्त व्यक्तियों द्वारा राशि नहीं जमा किया गया था,बार बार नोटिस और कार्रवाई करने पर आधी राशि दी गई थी,शेष राशि इन तीनों द्वारा नहीं जमा की गई है। जिस पर कार्रवाई करते हुए निगम ने दुकानदारों की मौजूदगी में सील कर दिया है तथा निगम की नियम और शर्तों के अनुरूप राशि जमा करने का अवसर दिया गया है,तब तक दुकानें सील रहेगी।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.