Ads

भाजपा से नाराज यादव समाज! जिलाध्यक्ष ने कहा- बहुसंख्यक होने के बाद भी नहीं कोई महत्व

 



कवर्धा। छत्तीसगढ़ की 11 लोकसभा सीटों के लिए भाजपा ने प्रत्याशियों का ऐलान कर दिया है. बीजेपी के नेता और कार्यकर्ता चुनाव की तैयारी में जुट गए हैं. वहीं लोकसभा चुनाव में एक भी यादव समाज के व्यक्ति को टिकट नहीं दिए जाने से सर्व यादव समाज में रोष व्याप्त है. सर्व यादव समाज के जिलाध्यक्ष राकेश यदु ने बताया कि छत्तीसगढ़ में यादव समाज को ओबीसी वर्ग में दूसरे स्थान पर है. इसके बाद भी यादव समाज को लोकसभा चुनाव में टिकट नहीं दिया गया है.

उन्होंने आगे कहा कि इसी प्रकार राजनांदगाव लोकसभा में प्रत्याशी चयन करने के लिए सर्वे कराया गया था. जिसमें पूर्व सांसद मधुसूदन यादव को सबसे अधिक 44 प्रतिशत लोगों ने पसंद करते हुए पहले स्थान दिया था, इसके बाद भी प्रत्याशी नहीं बनाया गया है जो कि विचारणीय पहलू है. इसके अतिरिक्त यादव समाज को किसी भी मंडल में शासन में भी कोई प्रतिनिधित्व न देकर यादव समाज की घोर अपेक्षा किया जा रहा है. इस प्रकार से देखा जाए तो यादव समाज बहुसंख्यक होने के बाद भी समाज को कोई महत्व नहीं दिया जा रहा है. उल्टा समाज के लोगों को हतोत्साहित, प्रताड़ित करने का कार्य किया जा रहा है. अब समय आ गया है कि यादव समाज को हर दृष्टिकोण से उपेक्षित करने के विरुद्ध एकजुटता से लड़ाई लड़ा जाए ताकि आने वाले समय में समाज को उचित प्रतिनिधित्व मिल सके.

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.