Ads

CG Weather Update: बारिश के कई सिस्टम एक साथ हुए एक्टिव, बिलासपुर में ताबड़तोड़ बारिश.... छत्तीसगढ़ में इसी हफ्ते Monsoon की एंट्री

 





Raipur. छत्तीसगढ़ वासियों के लिए अच्छी खबर है। दक्षिण पश्चिम मानसून आंध्र और तेलंगाना तक पहुंच गया है, ऐसे में संभावना है कि एक दो दिन में मानसून की दस्तक हो सकती है। मानसून की एंट्री बस्तर में पहले होगी उसके बाद रायपुर फिर अंबिकापुर में मानसून पहुंचेगा।आज शुक्रवार को कई क्षेत्रों में गरज-चमक के साथ बारिश अंधड़ और वज्रपात होने की संभावना जताई है। इस दौरान 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटा के रफ्तार से हवा चल सकती है।


आज इन जिलों में बारिश का अलर्ट

छत्तीसगढ़ मौसम विभाग के मुताबिक आज शुक्रवार को रायपुर समेत कई जिलों में गरज चमक के साथ बारिश आंधी चल सकती है. इसके लेकर अलर्ट जारी कर दिया गया है। वही नारायणपुर, बीजापुर, कांकेर, सुकमा, दंतेवाड़ा, बिलासपुर, कोरबा, मुंगेली, गरियाबंद, धमतरी और बिलासपुर में भी हल्की बारिश हो सकती है।बारिश और बादल छाए रहने की वजह से दिन का तापमान सभी जगहों पर सामान्य ही रह सकता है।प्रदेश के अधिकतम तापमान में आने वाले 4 से 5 दिनों में कोई खास बदलाव नहीं होगा।


एक साथ कई वेदर सिस्टम सक्रिय

छत्तीसगढ़ मौसम विभाग के मुताबिक, एक पूर्व पश्चिम ट्रर्फ उत्तर पश्चिम मध्य प्रदेश के ऊपर एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन पूर्वी मध्य प्रदेश और झारखंड होते हुए पश्चिम बंगाल तक समुद्र तल से 0.9 किलोमीटर की ऊंचाई पर स्थित है. दक्षिण पश्चिम मानसून की एंट्री आंध्र के विजयनगरम और तेलंगाना के वारंगल में हो चुकी है, ऐसे में एक-दो दिनों में मानसून की एंट्री छत्तीसगढ़ में हो सकती है.। आज शुक्रवार को प्रदेश के कई जिलों में हल्की से मध्यम बारिश का अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से अंधड़ चलने और आकाशीय बिजली गिरने की भी चेतावनी जारी की गई है।

मानसून की दस्तक जल्द

दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल बनी हुई है। अगर ऐसी ही स्थिति बनी रही तो बस्तर में सामान्य तारीख 8 जून तक मानसून पहुंच सकता है । रायपुर में भी 11 जून तक मानसून प्रवेश कर सकता है। 12 से 15 जून के बीच पूरे प्रदेश में मानसून के पहुंचने का अनुमान है। इस बार प्रदेश में बारिश सामान्य से 6% अधिक रहेगी, पिछले साल बारिश सामान्य से 6% कम रही थी। बता दें कि छत्तीसगढ़ में मानसून सबसे पहले बस्तर पहुंचता है, उसके बाद प्रदेश के दूसरे इलाकों में एक्टिव होता है। आने वाले पांच दिनों में प्रदेश में अधिकतम तापमान में कोई विशेष बदलाव की उम्मीद नहीं है।

Tags

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.