{ads}

गुरुद्वारा दयालबंद मे संपन्न हुई कैरियर गाइडेंस सेमिनार

 




गुरुद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद बिलासपुर की पहल से समाज के बच्चे जो स्कूल एवम कालेज मे पढ़ाई कर रहे है उनको अपना कैरियर कैसे चयन करे उसकी तैयारी कैसे करे , और कौन कौन से विकल्प है, आदि पर बच्चो की गाइडेंस के लिए एक कार्यशाला सेमिनार के साथ ही बच्चो के कैरियर गाइडेंस पर उनके माता पिता की क्या भूमिका होनी चाहिए। बच्चो को तैयारी कैसे करनी इस पर विस्तृत चर्चा के लिए गुरुद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद बिलासपुर दरबार हाल मे सेमिनार रखा गया। 








सेमिनार मे मुख्य वक्ता एवम मोटिवेशनल स्पीकर के रूप मे शासकीय इंजिनियरिंग कालेज बिलासपुर के प्राचार्य एवम समाज के वरिष्ठ स बलबीर सिंह चावला , छत्तीसगढ उच्च न्यायालय मे अतिरिक्त महाधिवक्ता स रनवीर सिंह मरहास, छत्तीसगढ की प्रसिद्ध कोचिंग इंस्टीट्यूट टूटेजा ट्यूटोरियल बिलासपुर के प्रबंध संचालक श्री सुनील टूटेजा , बिलासपुर मे पदस्थ प्रशासनिक अधिकारी एडिशनल एस पी श्री उमेश कश्यप ,केरियर गाइडेंस से संबंधित बिलासपुर की ख्यातिप्राप्त प्रीमियर एकेडमिक के प्रबंध संचालक श्री जयेश गुम्बर प्रीमियर एकेडमिक की संचालक प्रसिद्ध डेंटिस्ट एव डेंटल कैंसर स्पेशियलिस्ट डा रैनित गुम्बर रही। 


कार्यक्रम मे सभी स्पीकर ने बच्चो को कैरियर गाइडेंस पर अपने अनुभव विचार रखे साथ अपने अनुभव को साझा करते हुए कैरियर चयन पर की जाने वाली तैयारी एवम तैयारी के दौरान आने वाली परेशानी एवम उसे कैसे सामना किया जाए इस विषय पर बहुत ही विस्तार से सभी बच्चो को बताया । एवम बच्चो के मन मे केरियर चयन और गाइडेंस संबंधित अनेक सवाल और उनके विचार सुनकर उस अपने टिप्स देते हुए उनको संतुष्ट भी करते रहे। समाज के बच्चो मे और उनके परिजनो मे इस सेमिनार को लेकर काफी उत्साह देखा गया । कार्यक्रम का समय 10 बजे का रखा गया था किंतु समाज के बच्चे 9:30 पहुंच कर ही अपना स्थान ग्रहण कर लिए थे। 


एडिशनल एस पी श्री उमेश कश्यप गुरुद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद के इस प्रयास से काफी प्रभावित भी हुए और इस प्रकार के सेमिनार अन्य समाज के लोगो को भी करने की बात कही साथ ही बताया कि असफल होने पर कभी निराश नही होना चाहिए प्रथम बार के कंपटीशन मे वो भी असफल रहे किंतु पुन: प्रयास से वो सफलता प्राप्त कर लिए थे। 


शासकीय इंजिनियरिंग कालेज के प्राचार्य स बलबीर सिंह चावला ने कहा कि इस प्रकार के सेमिनार केवल बिलासपुर स्तर पर ही होकर इसे बिलासपुर के अन्य समाज के लोगो और 50 किलोमीटर परिक्षेत्र के बच्चो के लिए भी इस प्रकार के सेमिनार की जरूरत है। स बलबीर सिंह चावला का सम्मान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से सह सचिव चरनजीत सिंह गंभीर एवम स महेन्दर सिंह गंभीर ने किया । 


सुनील टूटेजा ने प्रशासनिक परिक्षा की तैयारी कब और कैसे करे इस पर विस्तार से प्रकाश डाला साथ बच्चो के माता पिता से आग्रह किया कि वो अपने बच्चो पर अनावश्यक दबाव न बनाए और न ही उनकी तुलना दुसरे से करे। सुनील टूटेजा का सम्मान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से कोषाध्यक्ष स सुरेंद्र सिंह छाबडा एव पुर्व अध्यक्ष स तविंदर पाल सिंह अरोरा ने किया। 


जयेश गुम्बर और डा रैनीत गुम्बर ने केरियर चयन और नीट की तैयारी पर विस्तार से गाइडेंस दी। जयेश गुम्बर जी का सम्मान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से उपाध्यक्ष स जगमोहन सिंह अरोरा एवम प्रीतपाल बाली ने डा रैनीत गुम्बर का सम्मान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से उपाध्यक्ष स परमजीत सिंह सलूजा ने किया। तविंदर पाल सिंह अरोरा ने केरियर गाइडेंस पर विस्तार से अपने विचार व्यक्त करते हुए अपने अनुभव साझा किए। 




अतिरिक्त महाधिवक्ता रनवीर सिंह मरहास ने बताया कि आज के परिवेश मे जुडिशल का कितना महत्व है कितना पावर है । क्लैट के विषय पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए जुडिशल क्षेत्र के लिए सभी को प्रेरित किया । रनवीर सिंह मरहास का सम्मान गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी की ओर से पुर्व अध्यक्ष स जोगेन्दर सिंह गंभीर एव गुरुद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद के सचिव स अमरजीत सिंह दुआ ने किया। 


कार्यक्रम का मंच संचालन गुरुद्वारा दयालबंद के पुर्व प्रधान स नरेंदर पाल सिंह गांधी ने एवम उपाध्यक्ष स गुरभेज सिंह चावला स कंवरपाल सिंह गांधी स राजेंद्र सिंह चावला ने किया एव आभार प्रदर्शन गुरुद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद के अध्यक्ष मनदीप सिंह गंभीर ने किया । गुरूद्वारा श्री गुरूसिंघ दयालबंद के हेड ग्रंथी ज्ञानी सिंह बडाला जी विशेष रूप से उपस्थित थे।


कार्यक्रम मे जगमोहन सिंह अरोरा हरजीत सिंह सलूजा अमोलक सिंह टूटेजा महेन्दर सिंह गंभीर अमरजीत सिंह दुआ मनदीप सिंह गंभीर राम मक्कड चरनजीत सिंह गंभीर सहकोषाध्यक्ष अजीत सिंह सलूजा अमन होरा , सी ए गुरप्रीत सिंह होरा प्रीतपाल बाली स्वजीत सिंह उबेजा परमजीत सिंह उबेजा विक्रम सिंह जगजीत सिंह समाज के अनेक बच्चे एवम बच्चिया साथ ही उनके माता पिता परिवार के सदस्य आदि विशेष रुप से उपस्थित रहे ।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.