Ads

कार्रवाई से ज्यादा रंगदारी ? इस कारण धूमिल हो रही विष्णु देव साय सरकार की छवि पढ़ें पूरा विश्लेषण

 





कोरबा. छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार आने के बाद प्रदेश के मुखिया साय राज में सभी प्रशासनिक अधिकारियों को दो टूक में कहा गया है कि अवैध गतिविधियों में कड़ी कार्यवाही की जाए। जिसके परिपालन में पुलिस प्रशासन अवैध शराब की बिक्री को लेकर पूरी तरह सख्त है और अनेको अवैध शराब विक्रेता पुलिस की सक्रियता से सलाखों के पीछे पहुँच रहे है। वही आबकारी विभाग की टीम द्वारा भयादोहन कर रंगदारी वसूली तथा दूसरी ओर मोटी रकम के लिए अवैध शराब को बढ़ावा दे रही है। पाली आबकारी पुलिस टीम द्वारा लगभग हर रोज कहीं न कही शराब के साथ गिरफ्तारी की जाती है। लेकिन उसे जेल भेजने के बजाय बीच रास्ते मे ही मोटी रकम लेकर छोड़ दिया जाता है। यदि किसी व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया तो उसे वाहन मे बैठाकार घुमाया जाता है फिर जेल भेजने का भय दिखाकर रकम वसूल की जाती है। ताजा मामले में पाली स्थित सरकारी शराब दुकान से तीन सौ मीटर दूर एनएच मार्ग किनारे एक परिवार निवासरत है, जिनके द्वारा किराना एवं जनरल दुकान का संचालन किया जाता है। बीते 21 मार्च की शाम आबकारी विभाग की टीम इनके दुकान पर आकर रुकी और डिस्पोजल, पानी पाउच बेचने की बात पर दुकान संचालक युवक को स्कार्पियों पर बैठाया गया और कुछ दूर लेकर गए। जिसके बाद युवक के मोबाईल से उसके परिजन को फोन किया गया कि पचास हजार ले आओ और गिरफ्तार किए गए व्यक्ति को ले जाओ। जब परिजन मौके पर पहुँचे तब सौदेबाजी का खेल शुरू हुआ। पीड़ित के परिजनों द्वारा कहा गया कि हम बहुत गरीब है सर गलत कार्य नही करते, पेट पानी के लिए दुकान चला रहे है। उस पर आबकारी टीम द्वारा डराया गया कि आचार संहिता में जेल भेजेंगे तो जल्दी छूटेगा नही और हमे पैसा ऊपर तक पहुँचाना होता है। जब गिड़गिड़ाते परिजन 30 हजार दिए तब पकड़े गए युवक को छोड़ा गया। एक और घटित घटना में गत माह आबकारी की यह टीम पाली विकासखण्ड के ग्राम डोंड़की में अवैध शराब पकड़ने एक घर मे घुस गई। तब घर मे एक महिला अकेली थी। इस दौरान किसी तरह का शराब तो बरामद नही हुआ लेकिन आबकारी टीम महिला को डरा- धमका पैसों का मांग करने लगी। गांव में जब यह खबर फैली तब गांव वाले इकट्ठा हो गए और आक्रोशित ग्रामीणों ने शराब पकड़ने पहुँचे टीम को दौड़ाया तब आबकारी की टीम सर पर पांव रखकर मौके से भाग खड़े हुए। इन दिनों आबकारी पुलिस बहुत ही ज्यादती कर रही है। गाड़ी में पानी की बोतलों में शराब मिली रहती है। गिरफ्तार किए गए व्यक्ति को लेकर उनका कहना रहता है कि इतनी रकम लाओ नही तो भारी मात्रा में शराब जब्ती का मामला शो करके जेल भेज देंगे। इनके ऐसी कार्यशैली से हर कोई हतप्रभ है।

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.