{ads}

अखंड ज्योत प्रजवलित करके 46 वें श्री झूलेलाल चालिहा महोत्सव का हुआ आरंभ, पूजा अर्चना व किया गया ध्वज वंदन

 




कृष्णा दीदी वह संत लाल सांई जी बरखा भाभी मां के संयुक्त रूप से अखंड ज्योत प्रजवलित करके 46 वां श्री झूलेलाल चालिहा महोत्सव आरंभ हुआ




श्री झूलेलाल चालिहा महोत्सव श्री

 सिंधु अमर धाम आश्रम झूलेलाल मंदिर झूलेलाल नगर चक्करभाटा में हुआ आरंभ कार्यक्रम की शुरुआत पंडित पूरनलाल शर्मा जी के द्वारा विधि विधान से पूजा अर्चना कराई गई एवं ध्वजा वंदन किया गया 10:30 बजे साधु वासवानी मिशन पुणे की प्रमुख कृष्णा दीदी का हुआ आगमन श्री झूलेलाल महिला सखी सेवा ग्रुप वह महिला मंडल के सदस्यों के द्वारा कृष्णा दीदी का डोल बाजे के साथ भव्य स्वागत किया गया आरती उतारी गई फूलों की वर्षा की गई बरखा भाभी मां के द्वारा मोतियों की माला पहनाकर कृष्णा दीदी का स्वागत किया 11:00 कृष्णा दीदी संतलाल सांई जी बरखा भाभी मां जी के संयुक्त रूप से श्री झूलेलाल चालिहा महोत्सव की अखंड ज्योत प्रजवलित कि गई 



 आए हुए सभी साध संगत को झूलेलाल चालिहा महोत्सव की शुभकामनाएं व बधाइयां दी इस अवसर पर 

 कृष्णा दीदी ने अपनी अमृतवाणी में भक्त जनों को श्री झूलेलाल चालिहा महोत्सव की महिमा बताइ कहा की 40 दिनों तक सांई जी मौन व्रत रहेंगे भक्ति सिमरन करेंगे यह सब आपके लिए करेंगे ताकि आप सब खुश रहें कोई तकलीफ परेशानी ना हो और यह जो अखंड ज्योत जल रही है ऐसी जोत आपके अंदर में भी है 



पर आप लोगों ने उसे ढक दिया है जोत को लोभ से लालच से पाप से झूठ फरेब धोखेबाजी से इसलिए वह आपको दिखाई नहीं देती है

अगर आपको देखना है तो उसके लिए आपको सच्चे विश्वास से प्रभु की भक्ति करनी होगी सिमरन करना होगा नाम जपना होगा तभी वह आपको इस आत्मा का परमात्मा से सीधा कनेक्शन तभी जुड़ जाएगा

सांई जी 40 दिनों तक मौन रहेंगे पर आजकल के लोग 40 मिनट तक सत्संग में जाते हैं कीर्तन में जाते हैं तो चुपचाप बैठ नहीं सकते ऐसे लोगों को सत्संग का लाभ कैसे मिलेगा जब तक आप संतो की वाणी सुनेंगे नहीं समझेंगे नहीं उन पर अमल नहीं करेंगे तो आपके जीवन का उद्धार कैसे होगा आप लोग भी प्रतिदिन मौन धारण करिए कैसे जितना हो सके कम बात करिए जहां हो सके वही बात करें और जो सत्य हो अच्छे कार्य की बात हो तभी करिए सामने वाले को हमारी बातें अच्छी लग रही है नहीं लग रही है यह आपको पता नहीं चलता है और हम बोलते ही जाते हैं बोलते ही जाते हैं तो ऐसा नहीं होना चाहिए अगर कोई हमसे सलाह मांगता है तो अच्छे कार्य के लिए अच्छी सलाह दीजिए सही राह दिखाइए जितना ज्यादा हो सके कम बात करें वह अच्छी वह ज्ञान की बातें करें वह सत्य बोले बाबा गुरु गुरमुख दास सेवा समिति के द्वारा कृष्णा दीदी का फूलों की माला पहनाकर स्वागत किया गया पूज्य सिंधी पंचायत चक्कर भाटा के अध्यक्ष व पदाअधिकारियों के द्वारा पुष्प देकर छाल ओढ़ाकर दीदी का स्वागत और सत्कार किया गया 11:30 श्री झूलेलाल अमर कथा का पाठ किया गया आरती की गई प्रसाद वितरण किया गया प्रतिदिन आज से मंदिर में होने वाले नित्य नेम इस प्रकार हैं सुबह 9:30 बजे आरती 10:00 बजे झूलेलाल अमर कथा का पाठ 10:30 बजे प्रसाद वितरण संध्या 7:00 बजे महा आरती 7:30 बजे प्रसाद वितरण रात्रि 10:00 बजे से 11:30 बजे तक झूलेलाल भगवान की धूनी वह भजन 12:00 बजे प्रसाद वितरण ईन 40 दिनों में श्री झूलेलाल मंदिर में चाहलीहा उत्सव के अवसर पर कई संत महात्मा आएंगे वह साध संगत को भक्तों को अपने रूहानी दर्शन देंगे अपनी अमृतवाणी से निहाल करेंगे आज के पूरे कार्यक्रम को सफल बनाने में बाबा गुरमुख दास सेवा समिति झूलेलाल महिला सखी सेवा ग्रुप के सभी सदस्यों का विशेष सहयोग रहा



Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.